NRI FULL FORM(Non Resident Indian)|NRI  ,NRE, NRO, Account

NRI FULL FORM|प्रवासी भारतीय

,NRE, NRO, ECNR , PIO, OCI  NRI full form

NRI full form ( Non Resident Indian) – वैसे आदमी जो इंडिया में नहीं रह रहा है उसे हम Non Resident Indian कहते हैं| जैसे- वैसा आदमी जो 6 महीने से किसी दूसरे देश में गया हो Education ग्रहण करने या जॉब करने तो वैसे आदमी को हम NRI कहते हैं|लेकिन ध्यान रहे वह व्यक्ति 6 महीने से किसी दूसरे देश में हो |

भारत के बहुत से व्यक्ति NRI हैं यदि देखा जाए तो NRI बहुत ही अच्छे लोग होते है |क्योंकि वह हमारे देश को अर्थव्यवस्था में काफी सहयोग दे रहा है|

यह लोग विदेशों में जाकर पैसा कमा रहा है और वहां के करेंसी सीधे हमारे देश यानी भारत भेज रहा है और उस पैसे को यहां खर्च किया जा रहा है| जिससे अर्थव्यवस्था में सहयोग रहा है|
NRI द्वारा कमाए गए पैसा टैक्स फ्री होता है इन्हीं को देखते हुए  भारत सरकार ने भी फैसला लिया कि यदि NRI हमारे देश की अर्थव्यवस्था में सहयोग दे रहा है तो हम भी उसके लिए कुछ काम करें और सरकार में        NRI के द्वारा कमाए गए पैसे को इंडिया में भेजने पर टैक्स फ्री कर दिया हैं |

क्या NRI भारत में वोट दे सकता है | NRI full form

हां भारत में  बोट कर सकता है उसके द्वारा दिये गए वोट को हम proxy वोट कहते है |

ये पोस्ट ऑफिस के द्वारा वोट कर सकता है| लेकिन लेकिन भारत में अभी इसकी अच्छे ढंग से व्यवस्था नहीं है|

मोदी सरकार ने 2016 में इसकी चर्चा की थी लेकिन अभी तक इस पर कड़ी व्यवस्था नहीं किया गया है|

लेकिन उसके लिए वोट डालने की व्यवस्था सरकार को करना चाहिए चाहे पोस्ट ही क्यों हो जो भी हो वोट डालने की व्यवस्था होना चाहिए|

NRI की पहचान क्या है? | NRI full form

NRI के पास पासपोर्ट होना चाहिए|

अगर पासपोर्ट नहीं है तो भारत से कहीं जा नहीं सकते NRI की सबसे बड़ी पहचान यही है|

आइए आप जानते हैं की NRI विदेशों में पैसा कमाता है वह पैसा इंडिया कैसे भेजता है?

वैसे व्यक्ति जो विदेश में पैसा कमा रहा है उसे इंडिया में पैसा भेजने के लिए इंडिया के किसी Bank में Account खुलवाना होगा|

उसके लिए भारत में तीन प्रकार के Account खोलने की व्यवस्था की गई है पैसा भेजने के लिए हेतु |

NRI को भारत में पैसा भेजने हेतु FEMA ( The Foreign Exchange Management Act) लाया गया इसी के तहत NRI के लिए भारत में Account खुलवाना होता है |

आए अब जानते हैं NRI अकाउंट के बारे में

NRI Full form
NRI Full form

ये Account तीन तरह के  होते हैं

NRONon Resident Ordinary
NRENon Residential External
FCNRForeign Currency Non Resident Account

NRO (Non Resident Ordinary)

ऐसा अकाउंट जिसमें इंडिया और विदेशों से कमाए हुए पैसे को जमा कर सकते हैं उसे NRO Account कहते हैं | इस अकाउंट में currency को बदल दिया जाता है |

जैसे ‑‑ आपने विदेशों में dollar कमाया है तो इंडिया में आप dollar रुपये में बदल दिये जाएंगे |

लेकिन इसमें कमी यह है कि इस Account में जमा हुए धन पर टैक्स देना पड़ता है इसलिए विदेशों कमाने वालों को सलाह दिया जाता है कि आप NRO मत खुलवाये आप NRE Account खुलवाए जिससे आपको फायदा होगा |

 NRE (Non Resident External )

  • ऐसा Account जिसमें केवल विदेशों में कमाए हुए पैसे को जमा किया जाता है|
  •  इस अकाउंट में Foreign Income पर कोई Tax नहीं लगता है| इस अकाउंट में भी Currency को बदल दिया जाता है |
  • जैसे आपने रियाल जमा किया है तो आपका रियाल इंडिया में रुपए में बदल दिया जाएयेंगे |

FCNR (Foreign Currency Non Resident Account)

उस व्यक्ति के लिए है जो International लेवल पर व्यापार करते हैं इस Account में करेंसी को नहीं बदले जाते हैं यानी आप जिस currency में FCNR  Account में जमा करेंगे उसी Currency में जमा रहेगा |

जैसे आप डॉलर में जमा करते हैं तो आप जहां भी निकलेंगे डॉलर में ही आप निकाल सकते हैं|

नोट – विदेशों से पैसे भेजने के लिए आपके पास swift Code रहना होना अतिआवश्यक है |

नीचे दी गई सूची का उपयोग करके स्विफ्ट कोड खोजें

SWIFT (सोसाइटी फॉर वर्ल्डवाइड इंटरबैंक फाइनेंशियल टेलीकम्युनिकेशन) को BIC (बिजनेस आइडेंटिफ़ायर कोड) और SWIFT-BIC, BIC कोड, SWIFT कोड, ISO 9362 के रूप में भी जाना जाता है। इन कोड का उपयोग बैंकों के बीच अंतर्राष्ट्रीय मनी ट्रांसफर के लिए किया जाता है।
SWIFT code Example
SBIN IN BB 455 (Example)

SBIN – Bank code (SBI)
IN – Country Code
BB – Location Code
455 – Branch Code (Mylapore, Chennai)

IMPS full form 

NEFT full form

MSP  full form

PIO क्या है? | PIO full form | NRI full form

   PIO का Full Form ___ Person of Indian Origin

अब इसे समाप्त कर दिया गया | वैसे व्यक्ति जो भारत के पर भारत छोड़कर किसी दूसरे देश में चला गया हो और उनके बच्चे वहां बस गए हो यानी वही की नागरिकता प्राप्त कर ली हो तो भारतीय मूल के वाशी होने के नाते भारत सरकार PIO कार्ड प्रदान करता है|

यानी भारतीय मूल के लोगों जो विदेश में है| उसे Person of Indian Origin कहां जाता है|

जब यह लोग भारत आते थे तो इसे कोई नहीं रोकता था पर हर 6 महीने पर से FRRO ( Foreigners Regional Registration Officer) के पास जाकर उसे अपने लोकेशन के बारे में बताना पड़ता था कि हम यहां इस क्षेत्र में रह रहे हैं और यह काम कर रहा हूं | तथा इसके साथ भेदभाव नहीं किया जाता था |

लेकिन इसे कुछ सुविधा से वंचित किया गया था

जैसे वोट नहीं डाल सकते थे

कोई बड़ा पद भारत में धारण नहीं कर सकता था

चुनाव में खड़ा नहीं हो सकते थे |

2015 में  PIO को समाप्त करके इसके स्थान पर नया नियम लाया गया जिसमें हर 6 महीने का FRRO वाला नियम को हटा दिया गया | और इसका नाम बदलकर OCI में बदल दिया गया |

 आइए आप जानते हैं OCI क्या है ? | NRI full form

OCI _ Overseas Citizen of India

OCI -यह प्रवासी भारतीय नागरिक कार्ड है| यह कुछ देश के वासियों को नहीं दिया जाता है |

जिसमें बांग्लादेश और पाकिस्तान के लोग आते हैं|

इन लोगों को यह कार्ड नहीं दिया जाता है|

क्योंकि यह लोग इस कार्ड का दुरुपयोग कर सकते हैं इसलिए इसे नहीं दिया जाता है|

 OCI की विशेषताएं

  • यह भी PIO की तरह है |
  •  इसमें VISA नहीं लगता है|

VISA– यदि विदेश जाना चाहते हैं तो उस देश से हम पूछते हैं कि हम वहां आए या ना उसे हम VISA बोलते हैं|

  •  यह Card के रूप में हमें दिया जाता है|
  •  इसमें FRRO को सूचित करने की जरूरत नहीं है|
  •  इसमें भी उन्हीं व्यक्ति को नागरिकता दिया जाता है|
  • जिनके माता-पिता या दादा-दादी कभी न कभी भारत में रहा हो और वह विदेश में जाकर बस गया हो|

OCI – Overseas Citizen of India

NRI full form – Non Resident Indian

NEXT Topic  – computer full form

Who is an NRI?

Spread the love

Leave a Comment

Translate »
%d bloggers like this: